सीएम ने कार्यकर्ताओं से की चाय पर चर्चा,कार्यकर्ताओं ने शहर व जिले की समस्याओं से कराया अवगत

सीएम ने स्वयं नोट कर कहा कि आपकी सभी समस्याओं का होगा निदान

रोमी सलुजा

खंडवा। वर्षो से खंडवा शहरवासी बढ़ती हुई यातायात की समस्या से जूझ रहे हैं यदि खंडवा में बायपास बन जाता है तो शहर की यातायात समस्या दूर हो सकती है। वर्तमान में इंदौर, भोपाल, नागपुर और बुरहानपुर से आने वाला आवागमन शहर के मध्य से ही गुजरता है जिसका कारण शहर में प्रतिदिन जाम की स्थिति बनी रहती है। मीडिया प्रभारी सुनील जैन ने बताया कि खंडवा में बायपास की मांग को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान से चाय पर चर्चा के दौरान समाजसेवी व प्रवक्ता सुनील जैन व नगराध्यक्ष सुधांशु जैन ने मुख्यमंत्री से वनमंत्री विजय शाह, प्रभारी मंत्री उषा ठाकुर व खंडवा विधायक देवेन्द्र वर्मा की उपस्थिति में खंडवा में बायपास बनाने का विनम्र अनुरोध किया था। मेडिकल कालेज जिला अस्पताल में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री चौहान ने वर्षो पुरानी मांग को पूर्ण किया और खंडवा बायपास की घोषणा कर कहा कि इसे बजट में लिया जाएगा। सुनील जैन ने बताया कि खंडवा आगमन के दौरान लोकप्रिय मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने रविन्द्र भवन के लोकार्पण के पश्चात पार्टी के पचास कार्यकर्ताओं से चाय पर चर्चा करते हुए कहा कि यहां पर भाषण नहीं हम सब मिलकर आपसी चर्चा करेंगे। लगभग दस से अधिक कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री चौहान के समक्ष खंडवा के साथ ही पूरे जिले भर की महत्वपूर्ण समस्या की ओर ध्यान आकर्षित करवाया। सभी कार्यकर्ताओं की बातों को मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गंभीरता से लेकर स्वयं अपने हाथों डायरी में नोट किया। सर्वप्रथम नगराध्यक्ष सुधांशु जैन ने यातायात की समस्या को दूर करने के लिए बायपास एवं खंडवा में चारखेड़ा से खंडवा तक अतिरिक्त पाइप लाइन डलवाने की महत्वपूर्ण मांग रखी वहीं श्यामसिंह मौर्य द्वारा कविता के माध्यम से शिवराज जी का गुणगान किया एवं प्रसिद्ध जैन तीर्थ सिद्धवरकूट जाने के लिए ओंकारेश्वर तक बांध निर्माण की बात रखी। रामगोपाल शर्मा ने कहा कि निमाड़ का सबसे बड़ा झुग्गी-झोपड़ी क्षेत्र संजय नगर व दादाजी वार्ड है लेकिन वर्षो से निवासरत गरीबों को अभी तक पट्टे नहीं दिए गए हैं जिसके कारण विकास कार्य भी व्यवस्थित रूप से नहीं हो पा रहे हैं। उन सभी को स्थायी पट्टे दिए जाए। प्रवक्ता सुनील जैन ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान से कहा कि जब भी दादाजी की इस नगरी में जो भी जनप्रतिनिधि ने जो मांगा है वह आपने दिया है। निमाड़ को हरित क्रांति से जोडऩे ने के लिए अरबों रूपए की उद्वहन सिंचाई योजना दी वहीं छोटे से शहर खंडवा को बड़ी सौगात के रूप में मेडिकल कालेज भी दिया है। अब शहर में यातायात की समस्या को दूर करने के लिए बायपास की आवश्यकता है, साथ ही नर्मदा जल योजना जो आपने पूर्व में स्वीकृत की थी लेकिन पाइप गलत बिछने के कारण पानी की लगातार समस्या बनी हुई है। आपसे अनुरोध है कि चारखेड़ा से खंडवा तक अतिरिक्त पाइप लाइन की स्वीकृति प्रदान कर खंडवा वासियों की प्यास बुझाने में सहयोग प्रदान करें। साथ ही किशोरदा के पुश्तैनी मकान को खरीद कर या अधिग्रहण कर राष्ट्रीय किशोर स्मारक बनवाने में सहयोग प्रदान करें ताकि देश के महान गायक कलाकार किशोर दा की स्मृतियों को इस स्मारक में संग्रहित कर रखा जा सके। वरिष्ठ नेता राजेश डोंगरे ने मुख्यमंत्री से चाय पर चर्चा के दौरान कहा कि खंडवा नगर तीन दादाओं के नाम से जाना जाता है। दादाजी धूनीवाले की भव्य समाधि यहां निर्मित है, किशोरदा का स्मारक व समाधि भी यहां है लेकिन स्वतंत्रता के लिए कलम से लड़ाई लडऩे वाले माखनलाल चतुर्वेदी के नाम से यहां कुछ नहीं है। आपसे अनुरोध है कि माखनदादा के नाम स्मारक के साथ पत्रकारिता कालेज का निर्माण हो। आयोजित कार्यक्रम में दीपू राठौर, अशोक दशोरे, धनसिंह चौहान व अन्य कार्यकर्ताओं ने भी अपनी ओर से अलग-अलग मांगे रखी। अंत में मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आपके द्वारा रखी सभी मांगें जायज है और इसे हम पूर्ण करेंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री चौहान के साथ मंत्री उषा ठाकुर, विजय शाह, विधायक देवेन्द्र वर्मा, राम दांगोरे, नारायण पटेल व जिलाध्यक्ष सेवादास पटेल उपस्थित थे।


error: Content is protected !!